Inspire science camp at ACE engineering college, Agra

आगरा में विशेषज्ञों ने कहा कि ई कचरे के व्यापार में भी बेहतर भविष्य की अपार सम्भावनाएं हैं। इंटरनेशनल टेलीकम्यूनिकल यूनियन (आईटीयू) के आकड़ों के मुताबिक दुनिया का 80 फीसदी ई वेस्ट रिकार्डेड नहीं है।

आगरालीक्स… आगरा में विशेषज्ञों ने कहा कि ई कचरे के व्यापार में भी बेहतर भविष्य की अपार सम्भावनाएं हैं। इंटरनेशनल टेलीकम्यूनिकल यूनियन (आईटीयू) के आकड़ों के मुताबिक दुनिया का 80 फीसदी ई वेस्ट रिकार्डेड नहीं है। जबकि ई कचरे का सही तरीके से निस्तारण करने पर उसमें मौजूद सोना, चांदी व कॉपर जैसे तत्वों से मौटा मुनाफा कमाया जा सकता है। ई कचरे को 60 फीसदी तक रीयूज किया जा सकता है। इसके उलट ऐसा न करने पर हम वातावरण में जहर खोलकर उसे प्रदूषित कर रहे हैं और खतरनाक बीमारियों को न्यौता दे रहे हैं।