Ganja supplier racket busted in Agra, 2 supplier arrested, Rs 50 lakh ganja seized

.आगरा में नशे का बडा कारोबार चल रहा है,

आगरालीक्स …आगरा में नशे का बडा कारोबार चल रहा है, देश विदेश से यहां पर्यटक आते हैं, एसटीएफ ने 50 लाख का गांजा पकडा, गांजा सप्लायर प्रधान भाजपा विधायक का नजदीकी है।
शुक्रवार को आगरा पुलिस और एसटीएफ ने गांजे का जखीरा पकडा, गांजा एक मेटाडोर में कार्टून में छिपाकर लाया जा रहा था, इसके साथ ही गांजा के दो सप्लायरों को भी पकडा है, ये विशाल अग्रवाल निवासी शास्त्रीपुरम, सिकन्दरा और होशियार सिंह निवासी दहतोरा हैं। इनके पास से मेटाडोर और स्कोडा कार बरामद हुई है। होशियार सिंह मथुरा बल्देव के गांव अबेरनी का प्रधान है, वह भाजपा विधायक का नजदीकी है। उसके बल्देव में जगह जगह भाजपा विधायक के साथ होर्डिंग भी लगे हुए हैं।
50 लाख के गांजे से बोरियों से भर गया थाना
ganja
थाना जगदीशपुरा में पुलिस द्वारा पकडा गया गांजा रखा गया है, गांजा बोरियों में था, इसे थाने की गैलरी में रखा गया, इससे थाना ही भर गया। गांजा 973 किलोग्राम है, इसकी कीमत करीब 50 लाख रुपये है।
ओडिशा से कानपुर होते हुए आ रहा था आगरा
पुलिस द्वारा पकडा गया गांजा ओडिशा से कानपुर होते हुए आगरा आ रहा था, यहां एसटीएफ ने गांजे का जखीरा पकड लिया। इतनी बडी मात्रा में गांजा पकडे जाने के बाद पुलिस पूछताछ कर रही है, गांजा सप्लाई करने वाले रैकेट का पता लगाने के लिए दोनों आरोपियों से पुलिस द्वारा पूछताछ जारी है।
छात्रों से लेकर पर्यटक कर रहे गांजे का नशा
आगरा और मथुरा में छात्रों से लेकर पर्यटक गांजे का नशा कर रहे हैं, इसे सिगरेट के साथ भी पीया जाता है, इसका इस्तेमाल करने से लत लग जाती है, कम उम्र में गांजे का इस्तेमाल तेजी से बढा है, पुलिस पूछताछ में सामने आया है कि सप्लायर को 20 हजार रुपये मिलते थे। गांजे को खरीदने वाले से मोटी कमाई की जाती थी।