Daughter Pooja perfom funeral of IFS AK Jain in Agra, FIR against Car & Tanker driver

आगरा में वन विभाग के चीफ प्रोजेक्ट डायरेक्टर एके जैन का अंतिम संस्कार ताजगंज में उनकी बेटी ने किया, उनकी मौत के मामले में नया मोड आया है,

आगरालीक्स.. आगरा में वन विभाग के चीफ प्रोजेक्ट डायरेक्टर एके जैन का अंतिम संस्कार ताजगंज में उनकी बेटी ने किया, उनकी मौत के मामले में नया मोड आया है,​ ​कार के आगे चल रहे टैंकर से टकराने पर एके जैन की मौत हुई लेकिन ड्राइवर के खरोंच तक नहीं आई है। उनके भाई विवेक जैन ने हत्या की आशंका जाहिर करते हुए पोस्टमार्टम की वीडियोग्राफी कराई है। उनकी तहरीर पर एके जैन के कार ड्राइवर नाजिम और टैंकर के कार ड्राइवर के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है।
आगरा के बाग फरजाना में बुधवार रात को चीफ प्रोजेक्ट डायरेक्टर एके जैन का शव पहुंच गया, उनके परिवार में कोहराम मचा हुआ है। गुरुवार सुबह उनके शव को ताजगंज विद्युत शवदाह ग्रह ले जाया गया। यहां काफी भीड थी, उनका अंतिम संस्कार बेटी पूजा जैन ने किया, उन्हें बेटी ने मुखाग्नि दी।
हादसे में मौत नहीं हत्या की गई
वन विभाग के चीफ प्रोजेक्ट मैनेजर एके जैन जापान सरकार के सहयोग से चल रही जायका योजना को देख रहे थे। वे बुधवार को लखनऊ से विभागीय कार्य से बरेली के​ लिए क्रेटा कार (UP 14 DH 4433) से निकले। उनके साथ गाडी में ड्राइवर और अर्दली थे। बुधवार सुबह शाहजहांपुर के तिलहर में स्वागत ढाबे के पास उनकी कार एक ट्रक से टकराने के बाद डिवाइडर में जा घुसी, हादसे में आईएफएस अधिकारी एके जैन की मौत हो गई. वहीं ड्राइवर और उनका अर्दली गंभीर घायल हैं।
अधिकारियों के खिलाफ खोला मोर्चा
वन विभाग के चीफ प्रोजेक्ट मैनेजर एके जैन ने अपने विभाग के ही अधिकारियों के खिलापफ मोर्चा खोला था, उन्होंने अधिकारियों पर भ्रष्टाचार और नोटबंदी के दौरान नोट बदलने के आरोप लगाए थे। वे आगरा में मुख्य वन संरक्षक के पद पर रहे थे, उन्होंने आगरा में भी पेड काटे जाने पर कार्रवाई की रिपोर्ट दी थी।
आगरा में परिवार में कोहराम
मुख्य वन संरक्षक एके जैन की मौत से आगरा में उनके ​घर पर कोहराम मचा हुआ है, उनका परिवार आगरा में रह रहा था। उनके भाई विवेक जैन मीडिया हाउस में हैं और एसोसिएशन के पदाधिकारी हैं, उनकी मौत के बाद से परिवार में भी कोहराम मचा हुआ है। उनके भाई ने कार ड्राइवर नाजिम के चोट न आने और बार बार बयान बदलने पर हत्या की आशंका जताते हुए मुकदमा दर्ज कराया है।