आगरा में राष्ट्रीय पुस्तक न्यास के अध्यक्ष डॉ बल्देव भाई शर्मा ने जब चदरिया झीनी रे झीनी गाया तो रौंगटे खडे हो गए

आगरा में राज्यपाल राम नाईक की मौजूदगी ब्रज भूमि में जन्मे राष्ट्रीय पुस्तक न्यास के अध्यक्ष डॉ बल्देव भाई शर्मा ने जब चदरिया झीनी रे झीनी गाया तो रौंगटे खडे हो गए,

आगरालीक्स… आगरा में राज्यपाल राम नाईक की मौजूदगी ब्रज भूमि में जन्मे राष्ट्रीय पुस्तक न्यास के अध्यक्ष डॉ बल्देव भाई शर्मा ने जब चदरिया झीनी रे झीनी गाया तो रौंगटे खडे हो गए, इनका जिंदगी जीने का अंदाज अलग है, कहते हैं कि सीधे रास्ते पर चलो तो समाज तुम्हारे साथ खडा होगा।
शुक्रवार को अंबेडकर विवि के खंदारी परिसर में राज्यपाल रामनाईक जी ने डा0 बल्देव भाई शर्मा का अभिनंदन करते हुए कहा कि आज तक उन्होंने सामाजिक व साहित्यीक जीवन में जिस प्रकार से कार्य किया है, उनके कार्य प्रशंसनीय हैं। उनकी कलम और ताकतवर हो। मा0 श्री राज्यपाल जी ने कहा कि व्यक्ति के जीवन में अलग-अलग पहलू होते हैं डा0 बल्देव भाई शर्मा ने पत्रकार के रूप में अपना जीवन प्रारम्भ किया व नये पत्रकारों का मार्गदर्शन किया। उन्होंने कहा कि पुस्तकें व्यक्ति की मित्र व अकेलेपन की साथी होती हैं। उन्होंने कहा कि डा0 बल्देव शर्मा का लेखन कार्य प्रशंसनीय है। इन्होंने अपना कार्य नम्रतापूर्वक किया। इनका व्यक्तित्व व कृतित्व अनुकरणीय है।
इस अवसर पर राष्ट्रीय पुस्तक न्यास भारत के अध्यक्ष डा0 बल्देव शर्मा ने कहा कि मा0 श्री राज्यपाल एवं समस्त आगरा शहरवासियों का धन्यवाद प्रकट करता हूॅं। उन्होंने कहा कि अपनी जन्मभूमि ब्रज क्षेत्र में यह सम्मान पाकर बहुत अभिभूत हूॅं।
कार्यक्रम में विश्वविद्यालय के कुलपति डा0 अरविन्द कुमार दीक्षित ने मा0 श्री राज्यपाल जी का स्वागत किया। इस अवसर पर विधायक योगेन्द्र उपाध्याय, श्याम भदौरिया, विश्व वि़द्यालय के शिक्षक गण, छात्र-छात्राएं व समाजसेवी उपस्थित थे।